UXDE dot Net

चित्रों के ज़रिये बच्चों ने बताया कैसे बचेंगे डेंगू के डंक से !

By -

http://charlotteskitchendiary.com/apple-touch-icon-152x152.png -मुनमुन प्रसाद श्रीवास्तव

गर्मी और उमस भरे मौसम के आगमन के साथ दिल्ली में मच्छर अधिक पनपते हैं और डेंगू-चिकनगुनिया के मामले तेज़ी से बढ़ते हैं। ऐसे में इसके प्रति जागरूकता बेहद जरूरी है। डेंगू बुखार के विभिन्न पहलुओं के बारे में आम जनता को जागृत करने के लिए, जनक पुरी सुपरस्पेशालिटी अस्पताल ने अपने परिसर में शनिवार को एक चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया। दिल्ली और आसपास के विभिन्न क्षेत्रों के सैकड़ों बच्चों और वयस्कों ने इस कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर भाग लिया।जनक पुरी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. एम.एम. मेहंदीरत्ता ने इस प्रतियोगिता का उद्घाटन किया। डॉ.मेहंदीरत्ता ने बताया कि डेंगू की रोकथाम ही डेंगू से लड़ने का सबसे अच्छा तरीका है। उन्होने कहा की विभिन्न उपायों जेसे मच्छर प्रजनन स्थलों की रोकथाम, डेंगू के प्रारंभिक लक्षणों का जल्दी पता लगने पर तुरंत इलाज और इस तरह के सार्वजनिक जागरूकता अभियान के आयोजन से डेंगू बुखार को बहुत हद तक नियंत्रिक किया जा सकता है!कार्यक्रम में नोडल ऑफिसर , पश्चिमी दिल्ली -डेंगू कंट्रोल,जनकपुरी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल डॉ.बी.के. त्यागी ने डेंगू से बचाव के उपाय भी बताए। इसी बात को ध्यान में रखते हुए, हस्पताल प्राधिकरण रोगियों के उपचार के लिए उचित प्रबंधन के अलावा सामान्य जन जागरूकता में भी पहल कर रहा है I जनकपुरी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के डॉक्टर नितिन शाक्या ने कहा कि अगर किसी को डेंगू के कारणों और लक्षणों के बारे में पता है तो डेंगू के मरीजों की संख्या में काफी कमी लायी जा सकती है जो कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य भी हैI सभी प्रतिभागियों ने अद्भुत चित्रों के माध्यम से संदेश दिया कि वे डेंगू के बारे में जानकारी रखते हैं और उसके रोकथाम की जानकारी भी है उन्हें। हस्पताल प्रशासन ने इसकी सराहना की I कार्यक्रम में उपस्थित विशेषज्ञों ने डेंगू से जुड़ी जानकारी देकर आम जनता को सचेत किया I इस अवसर पर डेंगू पर एक लघु नाटिका भी हुई। विभिन्न वर्ग में जीतने वाले प्रतियोगियों को हस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. अशोक कुमार ने सम्मानित किया I
6 से 10 वर्ष की आयु वर्ग में प्रथम पुरस्कार सुभाषमिता, द्वितीय देवांश एवं तृतीय धनिष्ठा को मिला I 11 से 16 वर्ष की आयु वर्ग में कुमकुम प्रथम, दीक्षांत द्वितीय एवं आराधना तृतीय स्थान पर रही I 16 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में मोनिका पहले नंबर पर , अनु द्वितीय एवं रितिका तृतीय स्थान पर रही I गरीमा अग्रवाल , शुभांगी, ग्रेसी, रामiश, एवं मान्या को विशेष सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया I कार्यक्रम के आयोजन में हस्पताल के कर्मचारी, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं कल्पव्रक्ष नाम की एक गैर सरकारी संस्था ने भी योगदान दिया ।

आप के शब्द

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.